Solutions for Life (जीवन संजीवनी)

जीवन के प्रति समर्पित ब्लॉग

30 Posts

688 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2732 postid : 169

करोड़पति बनें : चुनें सही निवेश

  • SocialTwist Tell-a-Friend

प्रिय पाठकों….. इस पोस्ट का शीर्षक एक सन्देश शीर्षक प्रतीत होता है….. जिसे पढ़कर आपको अच्छा तो लग सकता है….. लेकिन यह हमारे लिए है ऐसा यकीन नहीं होता…. लेकिन सावधान अगर आप ऐसा सोच रहें हैं तो आप गलत हैं….. यह एक ऐसी योजना है जिससे अनेक ऐसे लोग करोडपति बने हैं जिनके पास न तो पैत्रिक संपत्ति थी न ही उनकी आय लाखों में थी….. अगर उनके पास था तो वो था धैर्य और दूर दृष्टि….. अगर आप भी धैर्य और दूर दृष्टि एवं विश्वास से भरे हैं….. और करोडपति बनने के लिए कृत संकल्प हैं तो यह पोस्ट आप जैसे भविष्य के करोड़पतियों के लिए समर्पित है….. दोस्तों धन कमाना बुरी बात नहीं है…. उसका उपयोग किस ढंग से किया जाता है वह सही या गलत हो सकता है…. धन तो साधन है…. साध्य नहीं…. यह हमेशा याद रहना चाहिए….


सबसे पहले आज के बाद अपने बड़े खर्चों को करने से पूर्व आप स्वयं से कुछ प्रश्न जरुर पूछें:

१. क्या मैं कम खर्च करके भी खुश रह सकता हूँ.

२. क्या जो उत्पाद मैं खरीदने जा रहा हूँ वह गुणवत्ता में समझौता किये बिना कम दाम में मिल सकता है.

३. क्या मुझे नवीनतम टेक्नोलोजी वाला उत्पाद लेना चाहिए या पूंजी.

४. क्या मुझे एक महंगी कार लेनी चाहिए या ५ वर्ष तक निवेश जो मुझे धनी बना दे.


पाठकों करोडपति बनना कोई रहस्य नहीं है ये हमारे दैनिक निर्णय हैं जो हमें करोडपति बनाते हैं….. अक्सर हम्मे से ज़्यादातर लोग आपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए निवेश करते हैं जैसे बच्चों की पढाई, एक कार, एक घर इत्यादि….. लेकिन आज से आप निवेश करें करोडपति बनने के लिए…. यह आपकी सोच और भविष्य दोनों को बदल देगा….. जब आप एक लक्ष्य के प्रति समर्पित होंगे तो आप को इसमें आनंद भी आएगा और रोमांच भी होगा….


आज से आप निम्न कुछ बातों को अपनी आदत में शुमार कार लें:

१. आप एक लिखित वित्तीय योजना अवश्य बनायें….. जिसमे आपके वित्तीय लक्ष्य, बचत, कुल पूँजी, निवेश योजना एवं मासिक बज़ट आदि हों.

२. कम से कम आमदनी का १० % अवश्य निवेश करें और इसे उस हद तक बढ़ाएं जहाँ तक एक चुभन महसूस होती हो.

३. स्वयं को वित्तीय शिक्षा से अपडेट रखें.

४. स्वयम के स्तर से निम्न पर यापन करें.

५. जंहाँ तक हो सके क्रेडिट कार्ड का प्रयोग कम से कम करें…. और भुगतान समय पर करें.

६. म्युचुअल फंडों में एस आई पी के द्वारा नियमित निवेश करें.

७. हो सके तो आपना व्यवसाय शुरू करें.


करोडपति बनने का सबसे महत्वपूर्ण तथ्य है : कम्पाउंडिंग के महत्व को जानना

मान लीजिये आप रु.२५०००/- प्रति माह कमाते हैं…. तो क्या आप बचत के द्वारा करोडपति बन सकते हैं?

यह प्रश्न अधिकतर लोगों को बेवकूफी भरा और हास्यास्पद लग सकता है…. और लगता भी है. लेकिन निष्कर्ष पर पहुँचने से पहले कुछ तथ्यों पर नज़र डाल लेना बेहतर होगा….

साधारण रूप से यदि आप एक दीर्घावधि के लिए नियमित निवेशक बन पाते हैं… तो आप एक बड़ी पूंजी उत्त्पन्न करने में सफल होते हैं.

यदि आप रु. २५००/- प्रति माह एक ऐसी योजना में निवेशित करते हैं जो आपको १५% का रिटर्न दे तो ३० वर्षों में आपकी पूंजी रु. १.५ करोड़ होगी …. जी हाँ यह कोई टाइपिंग मिस्टेक नहीं है… यह रकम है रु. १.५ करोड़…. और यही रकम अगर ३५ वर्षो के लिए निवेशित की जाये तो कुल पूंजी होगी रु. ३ करोड़ से अधिक…..


यदि रु. १०००/- प्रति माह का निवेश किया जाता है तो २५, ३० तथा ३५ वर्षो में कम्पाउंडिंग रिटर्न से यह आपको कितनी पूंजी प्रदान करेगा यह निम्न तालिका से समझा जा सकता है:

Rate of Return    25 Years              30 Years                     35 Years

8%         947453                1468150                     2233226

9%        1107888                1782903                     2821497

10%        1298181               2171321                     3577522

11%       1523985                2650958                     4549973

12%       1792007                3243511                     5801557

13%       2110201               3975781                      7412992

14%        2487993               4880844                      9488075

15%       2936544                5999483                      12160148

16%       3469059                7381939                      15600324

17%       4101152                 9090045                     20027934

18%        4851265               11199824                     25723787

अगर आप आज से ५०० रु. प्रति माह की दर से बचत आरम्भ करते हैं और हर वर्ष इस बचत में ५०० रु. की वृद्धि करते जाते हैं… तो २५ वर्षों में आपकी पूंजी रु. १.५९ करोड़, ३० वर्षों में रु. ३.३६ करोड़ तथा ३५ वर्षों में रु. ६.९३ करोड़ होगी…. ये तथ्य भ्रामक नहीं हैं अपितु सत्य हैं. १५ % के वार्षिक रिटर्न पर यह पूंजी आप उत्पन्न कर सकते हैं.


म्युचुअल फंड एवं यूलिप योजनायें १५% वार्षिक से अधिक रिटर्न देने में सफल रही हैं…. अपितु इन योजनाओं ने २५% से अधिक का रिटर्न दिया है….. इक्विटी मार्केट ही आपको बेहतर रिटर्न दे सकता है.


इस सम्बन्ध में यदि आपकी कोई समस्या हो या किसी स्पष्टीकरण की आवश्यकता हो तो बेझिझक मुझसे संपर्क करें:


हिमांशु भट्ट 09719262225 , ईमेल himanshudsp@rediffmail.com

यह पोस्ट आपको कैसा लगा अपनी राय अवश्य व्यक्त करियेगा…. आगामी पोस्ट में कुछ मुचुअल फंडों एवं यूलिप के रिटर्न्स के बारे में चर्चा करेंगे.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 3.25 out of 5)
Loading ... Loading ...

36 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

vimal chandra bhatt के द्वारा
February 1, 2011

हिमांशु जी सादर नमस्कार — आपकी सोच बहुत ही उच्च कोटि की है इसमें कोई संदेह नहीं है — आपसे जब कभी दूरभाष पर वार्ता का सुअवसर प्राप्त होता है तो कई घंटे आपके विचार सुनने के बाद भी सुनते रहने का मन करता है — आज अगर मुझे अपना जीवन आनंदित mahshoosh होता है तो iska poora credit apko jata है. maine तो kewal thoda sa prayash kiya. -

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    February 1, 2011

    आपने मुझे इतना महिमा मंडित किया विमल जी….. इसके लिए बहुत बहुत धन्यवाद…. वैचारिक भिन्नता होना सामान्य बात विचारों का आदान प्रदान करके ही हम अपने जीवन के संशय दूर कर सकते हैं…. आपका सदैव स्वागत है….

vimal chandra bhatt के द्वारा
February 1, 2011

आपका रिप्लाई पढ़ा– कदाचित आप मेरा आशय नहीं समझे — इसलिए मुझे दिग्भर्मित मान कर चल रहे हैं — मेरा मानना है की हमेशा हर पल हमें वर्तमान में जीना चाहिए — पहले वर्तमान तो ठीक से जी लें — यह अपने अनुभवों के आधार पर कह रहा हूँ — बचत उतनी ही करनी चाहिए जो सामान्य जीवन यापन और आनन्दित आज जीने पर बच जाये– एक साथ कई जगह हाथ पाँव मारना तनाव का कारण ही बनेगा — जितनी अधिक अपेक्चा उतनी अधिक अशांति– जितनी कम अपेक्चा उतनी कम अशांति — वर्तमान जियो जो हो गया हो गया जो होगा तब देखा जायेगा — दुनिया में पैसा सब कुछ kharid sakta है पर khusi kisi baajar में नहीं milti यह तो hamare man में create hoti है — paise के piche bhagenge तो bimarinya dubak के khadi hongi एक एक कर pakad lengi –

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    February 1, 2011

    आपकी बात बिलकुल सही है…… लेकिन अगर आप इन्हें यथार्थ के धरातल में महसूस करते हैं तो….. आप अगर वर्तमान में वाकई में जीते हैं तो आप निश्चय ही धन्यवाद के पात्र हैं ….. इस सम्बन्ध में मैंने पूर्व में एक कहानी भी लिखी थी आप उसे भी अवश्य पढियेगा….. लेकिन स्पष्ट करें की यदि आप वर्तमान में जीते हैं तो २५ वर्ष बाद १ करोड़ की कीमत को लेकर इतने चिंचित क्यों हैं…. प्रस्तुत लेख में आपको जीवन सुख से न जीने की सलाह नहीं दी गयी थी अपितु सही निवेश के द्वारा धन जो की आपने अर्जित किया है उसका सही और उचित निवेश करने की सलाह दी गयी थी….. इस लेख में धन के अर्जन के लिए भागने की बात कही ही नहीं गयी अपितु केवल आप जो निवेश करते हैं उसे उचित एवं समझदारी से करने की और ध्यान दिलाया गया था….. यह मैंने कहीं कहा ही नहीं की इस धन से आप ख़ुशी खरीद सकेंगें अपितु लेख के आरम्भ में मै यह पहले ही स्पष्ट कर चूका हूँ की धन साधन है साध्य नहीं….. आदरणीय विमल जी आप जिस तरह से धन का पुरजोर विरोध कर रहे हैं उससे तो यही प्रतीत होता है की धन आपके मन मस्तिष्क में बहुत अन्दर तक पकड़ बनाये हुए है…. जो की नकारात्मक रूप से आपको जकड़े हुए है… अगर ऐसा है तो यह स्थिति आपके लिए उचित नहीं है…. धन को जीवन का केंद्र न बन्ने दे…. किसी भी रूप में चाहे वह धन का विरोध ही क्यूँ न हो…. क्यूंकि विरोध भी हमें उसके नजदीक ही लाता है… धन से पकड़ छोड़ दे…. धन को समभाव की दृष्टि से देखें…. चाहे प्रचुर हो या न्यून…. आशा करता हूँ अब आप मेरे लेख का मंतव्य अवश्य समझ गए होंगे अगर फिर भी कोई प्रश्न हों…. इस पोस्ट पर या मेरी अन्य पोस्ट पर तो आप सहृदय आमंत्रित हैं..

    vimal chandra bhatt के द्वारा
    February 1, 2011

    हिमांशु जी — आप कदाचित मेरे विचारों को अभी तक समझ नहीं पाए हैं — आपने लिखा है की में २५ वर्ष बाद की चिंता क्यों कर रहा हूँ — २५ वर्ष तो छोरिये कल कितना धन होगा या क्या होगा ये सोचना भी मानसिक कमजोरी होगी — इस दुनिया में हर वस्तु हर व्यक्ति नश्वर है एक न एक दिन उसे नष्ट होना ही है तो उसके प्रति कैसा लोभ — ये जरुर है की अपने कार्यों को पूरे मनोयोग से किया जाय — एक लेख में मैंने किखा था की दौलत के विचार हों तो दौलत बनती है — स्वास्थय का विचार हो तो स्वास्थय मिलता है — अब ये आप पर है की आप क्या विचार रखते हैं — संतोषम परम सुखम

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    February 1, 2011

    विमल जी एक बार फिर आपका स्वागत करता हूँ….. आपके विचार अनुकरणीय हैं लेकिन वह मेरी इस पोस्ट के परिपेक्ष्य में नहीं है ….. वस्तुतः आप जो कहना चाह रहे हैं वह सही है लेकिन यह इस पोस्ट के सन्दर्भ में नहीं है….

vimal chandra bhatt के द्वारा
January 31, 2011

आप का उपरोक्त ब्लॉग पढ़ा हो सकता है कई लोगों को बहुत पसंद आया हो उनमे से में भी एक हूँ पर मेरी कुछ प्रश्न हैं पहला २५ या ३० वर्षों बाद १ करोड़ की कीमत आज तुलना में क्या रहेगी दूसरा आज अपनी इचओं का दमन करके क्या उस धन का उपयोग मनुष्य कब्र में करेगा धन्यबाद

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 31, 2011

    नमस्कार विमल जी, आप कहते हैं की २५ या ३० वर्ष बाद १ करोड़ की कीमत क्या होगी….. महोदय यह तो आप को सोचना है की आपको २५ वर्ष बाद क्या चाहिए…. आप उसी अनुपात में निवेश करें…. रही बात इच्छाओं का दमन करने की… ऐसी बात नहीं है…. हमें इच्छाओं का दमन नहीं करना है…. अपितु अनावश्यक दैनिक खर्चों पर लगाम लगानी है…. आप अगर अपने खर्चों का लिखित ब्यौरा तैयार करें तो आप पाएंगे की कई खर्चे आप अनावश्यक ही करते हैं….. मई उन खर्चों की बात कर रहा हूँ…. अनावश्यक इच्छाओं पर आपको विवेक से काम लेना होगा नहीं तो आप भविष्य की आवश्यक इच्छाओं की पूर्ति नहीं कर पाएंगे…. महोदय आपसे विनम्र निवेदन है की चीजों को सकारात्मक परिदृश्य में देखें …… एक और आप कहते हैं की २५ वर्ष बाद १ करोड़ से क्या होगा….. और दूसरी ओर आप कहते हैं की इच्छाओं का दमन कर उस धन का उपयोग मनुष्य क्या कब्र में करेगा….. इससे स्पष्ट है की आप स्वयं में ही दिग्भ्रमित हैं….. आपसे निवेदन है की आप पहले स्वयं के लक्ष्य निर्धारित करें…. फिर मार्ग चुनने में आपको आसानी होगी…. नहीं तो जीवन में भटकाव के सिवा कुछ हासिल नहीं होगा….. यह आपके लिए हर दृष्टि से जरुरी है…. यदि और स्पष्टीकरण की आवश्यकता हो तो अवश्य बताइयेगा….

Devendra Singh Bisht के द्वारा
January 28, 2011

सर जी वाकई बहुत अच्छा ब्लॉग है आनंद आ गया . सब्द ही नहीं है कमेन्ट करने के लिय

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 28, 2011

    देवेन्द्र जी बहुत धन्यवाद आपका…… इसी प्रकार उत्साहवर्धन की अपेक्षा रहेगी…..

Aakash Tiwaari के द्वारा
January 17, 2011

श्री हिमांशु जी, वाह मनीगुरु……क्या जलेबी दिखाई है आपने …सुबह ही पढ़ा था….कमेन्ट नहीं दे सका था…….मै खुद शेयर बाजार से सम्बन्धित हूँ………… लोगो के फायदे के लिए पोस्ट की गयी इस जानकारी के लिए आप बधाई के पात्र हैं……. आकाश तिवारी

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    THANKS FOR YOUR COMMENTS & SUPPORT

allrounder के द्वारा
January 17, 2011

हिमांशु जी, नमस्कार सचमुच बहुत ही अच्छी जानकारियाँ दिन यहाँ आपने हर इंसान मैं बचत की आदत होनी ही चाहिए मगर इसे सही जगह निवेश करना हर किसी की समझ से बहार है, अपनी मेहनत से कमाया पैसा कई मर्तवा डुबो कर व्यक्ति लाचार हो जाता है ऐसे मैं आपका यह प्रयास सचमुच सराहनीय है ! आपको हार्दिक आभार इस नेक कार्य के लिए !

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    आपका कथन सही है…… लेकिन जब व्यक्ति स्वयं निवेश का निर्णय न ले सके तो ऐसे में उसे वित्तीय सलाहकार की सलाह मान कर निवेश करना चाहिए……

danishmasood के द्वारा
January 17, 2011

ज्ञान वर्धक जानकारी हिमांशु भाई आज नहीं तो कल आप से संपर्क तो करना ही पड़ेगा

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    दानिश साहब….. आप जब चाहें मुझसे संपर्क कर सकते हैं…… बंद हाज़िर है……

akhilesh के द्वारा
January 16, 2011

Really nice and inspiring post. At least will serve as a medium to visualize a good future. “आदमी कमाने से नहीं बचाने से अमीर बनता है ” :)

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    अखिलेश जी आपका कथन बिलकुल सही है…… धन्यवाद.

roshni के द्वारा
January 16, 2011

हिमांशु जी नमस्कार अपने निवेश के बारे में बहुत ही अच्छी जानकारी दी है लेकिन मेरे कुछ प्रशन है जैसे की एसआईपी क्या है किस तरह एसआईपी इनमे निवेश करे कौन से एसआईपी कुल मिलकर क्या प्रोसेस है

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    रौशनी जी, नमस्कार, आपने निवेश में रूचि ज़ाहिर की…..यह बहुत अच्छी बात है….. जन्हा तक आपके प्रश् का सम्बन्ध है मै अगला ब्लॉग इसी विषय पर प्रस्तुत करने जा रहा हूँ…. आशा करता हूँ की आपके प्रश् का समाधान हो जायेगा….

Piyush Pant, Haldwani के द्वारा
January 16, 2011

भट्ट जी……. आपने बड़ी ही उपयोगी जानकारी दी है…. मुझे इस संबंध मे राय दें की मैं 4000 रूपये की एसआईपी करवाना चाहता हूँ……… तो क्या एक ही करवाकर फायदा है या अलग अलग चार ………….. ओर दूसरी बात ये की क्या मुझे इस से इंकम टैक्स मे कोई राहत मिलेगी…………………

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    पियूष जी, यह तो बहुत ही अच्छी बात है की आप ४०००/- की एसआईपी करवाना चाहते हैं…… यह आप एक ही फंड में भी कर सकते हैं या चाहे तो अलग अलग…. इन्कोमे टैक्स में रहत के लिए आपको ELSS लेना होगा….

    Piyush Pant, Haldwani के द्वारा
    January 18, 2011

    कुछ जानकारी ELSS पर भी दें ……..ओर SIP करवाने के तरीके के बारे मे भी बताएं….की इसे किस तरह से करवाया जा सकता है…….. ……

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 28, 2011

    पियूष जी थोडा धैर्य रखियेगा……. अगले पोस्ट में आपकी इस समस्या का समाधान हो जायेगा…..

nishamittal के द्वारा
January 16, 2011

अच्छी जानकारी प्रदान करने के लिए धन्यवाद हिमांशु जी.आपकी जानकारी से बहुत लोग लाभान्वित होंगें.

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    नमस्कार निशा जी, धन्यवाद.

rajkamal के द्वारा
January 16, 2011

प्रिय हिमांशु जी …नमस्कार ! आप बहुत ही अच्छी जानकारी प्रदान की है …. लेकिन जब सभी ब्लोगर करोड़पति हो गए तो फिर ब्लागिंग कौन करेगा ?

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    राजकमल जी….. नमस्कार मेरा सोचना तो यह है की जब सब करोडपति हो जायेंगे तो ब्लोगिंग का मजा दोगुना हो जायेगा…… आपका बहुत बहुत धन्यवाद.

    January 18, 2011

    जब मैं करोडपति बन जाऊँगा, ब्लॉग्गिंग के लिए ८-१० बन्दे काम पर रख लूँगा,,,,,,

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 18, 2011

    फिर तो रतूड़ी जी ब्लॉग्गिंग का मजा ८-१० गुना हो जायेगा…..

    rajkamal के द्वारा
    January 18, 2011

    प्रिय जुबली कुमार जी…. नमस्कार ! आप ब्लागिंग के लिए आदमी और लड़किया चाहे जितनी मर्जी रख लेना …. लेकिन एक दिन में सिर्फ एक ही रचना पोस्ट किया करना …… आप सभी को करोड़पति बनने की अग्रिम रूप से बधाईयाँ …. अरे भाई मुझ मांगलिक को तो बीएस रब्ब एक का ही पति बना दे तो खुद को धन्य मानू ..धन्यवाद सहित

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 28, 2011

    राजकमल जी इश्वर आपको शीघ्र ही एक अदद बीबी प्रदान करे

naturecure के द्वारा
January 16, 2011

हिमांशु जी सादर अभिवादन ! मान गये आपकी दूर द्रष्टि को | बहुत ही अच्छा | कम से कम मैं आज से ही इस अमल शुरू कर दूंगा | इस जानकारी से करने के लिए धन्यवाद | डॉ. कैलाश द्विवेदी

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 16, 2011

    अगर मेरे द्वारा दी गयी जानकारी आपको हेल्प कर सके तो यह मेरा सौभाग्य होगा…..

abodhbaalak के द्वारा
January 16, 2011

हिमांशु जी बहुत ही ज्ञानवर्धक लेख, मेरे को इस विषय पर आपसे लगता है की पर्सनल बात करनी ही पड़ेगी… फ़ोन नंबर नोट कर लिया है और मेल तो करूंगा ही… आप तो मोनी गुरु हो गए भय्या.. http://abodhbaalak.jagranjunction.com/

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    January 16, 2011

    अबोध जी अवश्य आप संपर्क कीजियेगा …..मुझसे जो भी मदद हो सकेगी मै प्रस्तुत रहोंगा…


topic of the week



अन्य ब्लॉग

  • No Posts Found

latest from jagran