Solutions for Life (जीवन संजीवनी)

जीवन के प्रति समर्पित ब्लॉग

30 Posts

688 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2732 postid : 68

कॉमनवेल्थ खेल : जीत गयी खेल भावना

  • SocialTwist Tell-a-Friend

….उहापोह की स्थिति में प्रारम्भ हुए कामनवेल्थ खेलों में….

….भारतीय खिलाडियों ने अपने उत्कृष्ट प्रदर्शन से….
….सारे दाग मानो धो दिए हैं….
….अन्यथा आयोजन समिति ने तो भ्रष्टाचार की परम परिधि को लांघकर….

…. देश को शर्मसार किया ही….
….मिडिया ने भी देश को इस अवसर पर बदनाम करने के….

….हरसंभव मौके का उपयोग किया….
….मिडिया के इस कृत्य का खामियाजा….

….इन खेलों में विदेशी मेहमानों की कम संख्या में आने के रूप में रहा….
….लेकिन चाहे जो कुछ भी विवाद के तथ्य रहे हों….
….अंततः भारतीय खिलाडियों ने सब घावों पर मरहम लगा दिया….
….इन खिलाडियों ने न सिर्फ पदकों का सैकड़ा लगाया….

….अपितु तालिका में दूसरे स्थान में आकर देश को गौरवान्वित भी किया….
….जैसे जैसे हमारे खिलाडी पदक जीतते गए हमारे चेहरे फक्र से दमकते गए….
….जो जिल्लत हम इन खेलों की तैयारियों के दौरान झेल रहे थे….
….हमारे इन सुपर हीरों ने अपने दम ख़म से उन्हें समाप्त कर दिया….
….इसके अलावा उदघाटन और समापन समारोह ने….

….भारत की इज्ज़त पर चार चाँद लगा दिए….
….आज हर भारतीय इन खेलों के आयोजन को लेकर….

….गौरवान्वित महसूस कर रहा है….
….इसके लिए वो हर व्यक्ति जो इन खेलों से जुड़ा है बधाई के पात्र हैं….
….साथ ही साथ भारतीय खिलाडी भी बधाई के पात्र हैं….

….जिनकी स्वर्णिम सफलताओं के कारण ये खेल सदैव याद किये जायेंगे….
….एक बार फिर तमाम मुश्किलों के बाद….

….हमने खुद को दुनिया के सामने साबित किया है….
….इस गौरवमयी सफलता के लिए….

….आप सभी देशवासियों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं….
….जय हिंद….

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

6 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Piyush के द्वारा
October 20, 2010

वास्तव में इन खेलों की सफलता का सारा श्रेय खिलाडियों को और उनकी खेल भावना को ही जाता है. जिसने इस आयोजन को इतना सफल बनाया. बाकी इसका श्रेय लेने की होड़ अभी जारी है….. अच्छे लेख के लिए बधाई…..

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    October 20, 2010

    प्रतिक्रिया हेतु आपका धन्यवाद. निश्चित ही खिलाडी ही इस सफल आयोज़न के कारक हैं.

Vipin Joshi के द्वारा
October 20, 2010

वाकई सर जी….कोम्मोंवेअल्थ खेलों में खेल भावना ही जीती है……जिस प्रकार से इन खेलों के आयोजन तथा सफलता पूर्वक सम्पन्न होने पर प्रशन चिन्ह लगे हुए थे ….खिलाडियों के प्रदर्शन तथा स्वर्णिम आयोजन से उन सब पर वीरम लग गए है तथा भारत ने समूची दुनिया के सामने अपने आपको सिद्ध कर दिया है……हिमांशु जी कोम्मोंवेअल्थ खेलों दस सफल आयोजन तथा आपके एक सुंदर लेख पर आपको बधाई ……

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    October 20, 2010

    प्रतिक्रिया हेतु आपका ह्रदय से आभार… धन्यवाद.

Akhilesh के द्वारा
October 17, 2010

Have you ever realized, the most neglected thing throughout the CWG discussions was the Sport and Sport persons itself. Every body was fighting over the issues related to preparations without even bothering to know about the state of our players. Neither OC nor the Govt. but truly the players are the Wealth of our Nation. Kudos to them

    HIMANSHU BHATT के द्वारा
    October 17, 2010

    बिकुल सही कहा आपने, खिलाडियों की चिंता किसी को भी नहीं है, यह देश का दुर्भाग्य है.


topic of the week



अन्य ब्लॉग

  • No Posts Found

latest from jagran